Followers

Wednesday 24 November 2010

रोहतक की यात्रा और बलोगर मिलन (raohatak jurny for blogar meetingh )

     कल यानी की २१ दिसम्बर को तय था, श्री राज भाटिया जी के द्वारा आयोजित बलोगर मिलन | ये बलोगर मिलन हमेशा होने वाले बलोगर मिलन से हटके था क्यों की इसका कोइ एजेंडा नहीं था | पहले से कोइ मकसद नहीं था सो इस पर सफल या असफल की टिप्पणी तो हो ही नहीं सकती है |

     रोहतक की यात्रा के लिए मुझे सुबह बहुत जल्दी उठाना पडा हमारे यंहा से पहली सीधी बस रोहतक के लिए ५ बजे के आस पास जाती है मै सुबह जल्दी जल्दी तैयार हुआ लेकिन बस स्टैंड पर पहूचा तो..... ओले भाई.....नीरज दहिया वाला डायलोग याद आ गया | मतलब की बस जा चुकी थी | इस लिए यात्रा टुकड़ो टुकड़ो में करनी पडी, नहीं तो समय पर नहीं पहुच पाता | मैने बगड से बस पकड़ी पिलानी पहुँचा, वंहा से बस पकड़ी लूहारू आया, लूहारू से बस पकड़ी भिवानी पहुँचा और भिवानी से रोहतक | टुकड़ों टुकड़ों में की गयी यात्रा का भी अपना अलग ही अनुभव होता है हर जगह के बस स्टोपेज को देखने का समझने का मौका मिल जाता है | अब एक चित्र देखिए जो भिवानी से रोहतक की बस में लिया था | और कुछ दृश्य बस स्टोपेज के भी है |
भिवानी से रोहतक की यात्रा में लिया गया एक फोटो 

रोहतक का बस स्टैंड 

     तिलियार लेक यही नाम था उस जगह का जहां ये मिलन आयोजित किया गया था | मुझे यह जगह ढूँढने में ज्यादा परेशानी नहीं हुयी क्यों की मेरे मोबाइल में भी गूगल मैप है उसके सहारे आराम से उस जगह पर पहुंचा जा सकता था |
इस सम्मेलन का सारा श्रेय मै अगर एक आदमी को दू तो वो है श्री राज भाटिया जी जो हाल ही में जर्मनी से यहां आये है | और उन की इच्छा थी की सभी बलोगरो से मिल लिया जाए कम समय में, सबसे मिलने का इससे बढ़िया जुगाड़ और हो भी नहीं सकता था | इस सम्मेलन में जिन लोगो ने अपना कर्त्तव्य निभाया वो इस प्रकार है:

आयोजक -श्री राज भाटिया
व्यवस्थापक -श्री अंतर सोहिल
तकनीकी जिम्मेदारी -शाहनवाज सिद्धिकी  ओर खुशदीप सहगल
संचालन किया -अजय कुमार झा ने |
इस में शामिल होने वाले ब्लोगर निम्न लिखित थे |
ऊपर जिनका जिक्र हुआ उनके अलावा
केवल राम
संजय भास्कर
नीरज जाट
ललित शर्मा 
राजीव तनेजा
श्रीमती संजू तनेजा
सतीश सक्सेना
अरूणा कपूर
कविराज योगेन्द्र मौदगिल

निर्मला कपिला
संगीता पुरी
योगेन्द्र मौदगिल
हरदीप राणा
इस बलोगर सम्मेलन के बारे में अगली पोस्ट में भी बताऊंगा कि वंहा किसने क्या कहा और क्या क्या कमिया दिखी..अगली पोस्ट का इंतज़ार करे |
ताऊ के कैमरे द्वार ली गयी वो फोटो भी देखना ना भूले जिसे आपने अब तक नहीं देखा है | जी हां ताऊ वंहा मौजूद थे |

16 comments:

  1. meet kae baad bhi sabne majae liyae aur chahtakare bhare haen

    ReplyDelete
  2. हयं "ताउ" वहां मौजूद थे
    तो क्या मिस्टर इण्डिया वाली घडी पहन कर आये थे।
    अगली पोस्ट का बेसब्री से इंतजार

    प्रणाम स्वीकार करें

    ReplyDelete
  3. ताऊ मौजूद थे?????
    तहलका मचा दिया आपने तो।

    ReplyDelete
  4. सारा श्रेय एकत्र हुये ब्लॉगरों को जाता है। राज भाटिया जी तो उस भावना के वाहक हैं।

    ReplyDelete
  5. अरे आपने तो बड़ी मेहनत की तिल्यार, रोहतक तक पहुँचने में.... वैसे तकनीकी सहायता मेरी कह सकते हैं, लेकिन रिपोर्टिंग में मेहनत खुशदीप भाई ने ही की थी...

    और हाँ, सतीश सक्सेना जी का नाम दो बार ही लिख दिया, हमारा तो एक ही बार लिखा है... :-)

    ReplyDelete
  6. नरेश जी आगे के वृतान्त का इंतजार रहेगा।
    हमारे भी जाते आपके संग इस रोचक मिलन का लुप्त उठाने पर क्या करें हमारे को कुछ काम था

    ReplyDelete
  7. संक्षिप्त मगर बढ़िया रिपोर्टिंग !!
    राजीव तनेजा का लिंक यह रहा ...इसे ठीक करलें
    http://hansteraho.blogspot.com/
    शुभकामनायें नरेश भाई

    सतीश सक्सेना

    ReplyDelete
  8. जी हां ताऊ वंहा मौजूद थे |
    @ तो ताऊ कौन पहेली सुलझी क्या ? :)

    ReplyDelete
  9. @सतीश सक्सेना जी आपने यूं आर एल बता कर अच्छा किया है मैंने सुधार कर दिया है |

    ReplyDelete
  10. लो कल्लो बात्! ताऊ नें हमें धोखे में रखा और खुद रोहतक पहुंच गया..अब ताऊ की क्लास लगाते हैं :)

    ReplyDelete
  11. ताऊ ने फिर पंगा किया..हमें बिना बताये चला गया.

    :)

    आगे की कड़ी अब पढ़ते हैं.

    न आ पाने का बहुत अफसोस है.

    ReplyDelete
  12. ताऊ तो वहां अपनी पूरी मंडली (रामप्यारे, रामप्यारी, रमलू सियार आदि..) के साथ मौजूद था. जिसकी आंखे खुली थी उसने ताऊ को देखा और जिसकी बंद रही उसको क्या दिखेगा? नरेश जी की भावना सच्ची थी तो उन्होने देख लिया, ताऊ को जहां याद करलो वहां प्रकट हो जाता है.:) "जाकी रही भावना जैसी" प्रणाम.

    रामराम.

    ReplyDelete
  13. बहुत - बहुत शुक्रिया ..आपने बहुत अच्छे तरीके से इस सम्मलेन की रपट पेश की है , आपसे मिलकर मुझे हार्दिक प्रसन्नता हुई..आगे भी मिलने की इच्छा रहेगी ...बहुत बहुत आभार

    ReplyDelete
  14. वाह!..सभी फोटोग्रफ्स सुंदर है!..तिलियार का ब्लोगर संमेलन सफल रहा!

    ReplyDelete
  15. बहुत सही ..बहुत खूब ..अविस्मरणीय रहा यह ब्लॉगर मिलन..शुक्रिया

    ReplyDelete

आपके द्वारा की गयी टिप्पणी लेखन को गति एवं मार्गदर्शन देती है |इस लिए केवल सार्थक टिप्पणी ही करे | टिप्पणी के प्रतिउत्तर में टिप्पणी की आशा न रखे | अपने ब्लॉग या पोस्ट के प्रचार हेतु टिप्पणी ना करे |