Followers

Wednesday, November 19, 2008

कंप्युटर के लिये कुछ देशी जुगाड - भाग १

आप सभी ने किसी न किसी जुगाड के बारे में तो जरूर सुना ही होगा। जुगाड शब्द का अर्थ सामान्य भाषा में जोड तोड कर के काम मे लेने योग्य बनाना है । एक जुगाड हरीयाणा मे काफ़ी मशहूर हुआ था । साधारण इंजन को ट्रेक्टर के रूप मे काम मे लेने का जिसमे सामान व सवारीयां ढोई जाती थी । इसका नामकरण कुछ लोगों ने 'मारूता' कर दिया कुछ ने केवल उसे जुगाड ही कहा लेकिन मै जो जुगाड आपको बता रहा हू वह कंप्युटर से संबन्धित है।
आप कंप्युटर का उपयोग गीत संगीत के लिये तो जरूर करते है । कइ बार आप के पास कंप्युटर के स्पीकर नही होने की वजह से आप गीत संगीत का मजा नही ले पाते है।आप नजर दोडायेगें तो आपको घर मे ही जुगाड मिल जायेगा । सबसे आसानी से उपलब्ध होने वाले समान मे tv कैसा रहेगा? जी हां आप tv को कंप्युटर से जोड सकते है इसके लिये विशेष कलाकारी की जरूरत नही है ।
आप को एक केबल की जरूरत पडेगी जो आसानी से बाजार मे मिल जाती है इसे sterio jack to rca केबल कहा जाता है । जिसका चित्र नीचे दिखाया गया है
एक साइड कोकंप्युटर के स्पीकर वाले सोकिट मे लगाये व दूसरे rca के सिरो को tv के av in के audio left व audio right मे कलर कोड के हिसाब से लगाए
tv के रिमोट पर एक बटन होती है जिस पर tv/av लिखा रह्ता है। इस बटन को दबा कर av मोड चालू करे । tv मे आवाज के काफ़ी सारे फ़ंक्सन होते है अपनी पसन्दके हिसाब से सेट करे





tv के रिमोट पर एक बटन होती है जिस पर tv/av लिखा रह्ता है। इस बटन को दबा कर av मोड चालू करे । tv मे आवाज के काफ़ी सारे फ़ंक्सन होते है अपनी पसन्दके हिसाब से सेट करे आगे के जुगाड़ अगली पोस्ट में

12 comments:

  1. बोले तो दोहरी बिजली खर्च होगी.


    मगर संगीत सुनना हो तो क्या फर्क पड़ता है.

    ReplyDelete
  2. वाह मजा आ गया ! बहुत सरल किन्तु अति उपयोगी!

    ReplyDelete
  3. उपयोगी जानकारी. धन्यवाद .

    ReplyDelete
  4. सही जुगाड़ बताया है |

    ReplyDelete
  5. जुगाड़ तो ठीक है. यदि घर में डी वी डी प्लेयर हो तो भी ऐसा ही कर सकते हैं ना? आभार.
    http://mallar.wordpress.com

    ReplyDelete
  6. आहा आप तो मेरी तरह ही नीकलें।

    बहुत बढीया जूगाड।

    मैने पहले आपका ब्लाग अपने ब्लाग मे जोडा था पर सब का ब्लाग उसमे से टेम्पलेट को ईडीट करने मे डीलीट हो गया था और अभी रीकवरी का काम कर रह हूं :)

    हम स्पीकर का तार कंप्यूटर मे पीछे(जो ग्रीन कलर का होता है) लगते हैं। उसमे Rs.10 या 15 वाला
    ईयर फोन लगा के भी सून सकते हैं। पहले यही करता था। पर जब से आवाज कूछ खराब होना सूरू हूवा मै हेड्फोन का प्रयोग करने लगा।

    ReplyDelete
  7. वाह भई वाह, मजा आ गया!!

    ReplyDelete
  8. जुगाड़ बुरा नहीं है

    ReplyDelete
  9. dear sir m arun from gugrgaon haryana can u give best advise in my pc actully sir mujhe apse baest audio control best sound effect kaise bnaye jaye ya kon se soft ke jariye

    ReplyDelete
  10. वाह...क्या जुगाड हे

    ReplyDelete
  11. बहुत अच्छा जुगाड हे

    ReplyDelete

आपके द्वारा की गयी टिप्पणी लेखन को गति एवं मार्गदर्शन देती है |