Followers

Sunday, April 21, 2013

जोब पोर्टल की हकीकत A TRUE FACT ABOUT JOB PORTAL

      आजकल एक अच्छी नौकरी मिलना और नियोक्ता को एक योग्य कर्मचारी मिलना बहुत ही टेढी खीर है । नियोक्ता और बेरोजगार आवेदक का मेल करवाने मे जोब पोर्टल की अहम भूमिका है , इस क्षेत्र मे अब छोटे से लेकर बडे बडे ग्रुप तक सक्रिय है ।

जब से मै अफगानिस्तान से आया हू मै भी नये जोब की तलाश मे हू , इसलिये मै ने भी इसी प्रकार एक जोब पोर्टल से जुड्ने की सोची । और मुझे इनमे टाईम्स ग्रुप का टाईम्स जोब्स ( http://timesjobs.com) जम गया सोचा कि बडा ग्रुप है शायद कुछ अच्छा ही रहेगा ।

    शुरूआत करने के लिये इस मे आप को अपना रजीस्ट्रेशन करवाना पड्ता है , जिसमे आपका पूरा ब्यौरा जैसे कि नाम पता मोबाइल नम्बर,मेल आई डी आदि देना पडता है । उसमे आप अपना रेज्युम ,अपने प्रमाण पत्र आदि अप्लोड कर देते है । उसके बाद आप इस पोर्टल पर अपनी योग्यता का जोब ढूंढ कर अप्लाई के टेब पर क्लिक कर देते है और आपको मेसेज मिल जाता है कि आपकी अप्लिकेशन सम्बन्धित कम्पनी मे भेज दी गयी है । इस प्रकार आप दिन भर मे अन गिनत जोब हेतु अप्लाई कर सकते है ।

   अगर आप ने दो चार दिन से किसी एक जोब के लिये अप्लाई किय तब तो आपको कोइ नोटिस नहि लेगा लेकिन अगर आप ने  एक ही दिन मे 10-15 जोब अप्लिकेशन भेजी तो आपको उचित पात्र समझ कर टाईम्स जोब्स का प्रतिनिधी आपको फोन करेगा और आपको आप के  अनुभव और आपकी योग्यता के बारे मे पूछेगा और आपको कहेगा कि आप उनकी पेड सर्विस के लिये रजीस्टर करे आपको जोब जल्दी मिल जायेगा ,उसके लिये आप को उनके बैंक अकाउंट मे 2400 रूपये जमा करवाने के लिये कहा जायेगा ,और जब तक आप वो पैसे जमा नहि करवायेंगे तब तक उनका फोन दिन मे चार-पांच बार आयेगा रूपये जमा करवाने पर बैंक वाला आप को  ट्रांजेक्शन आई डी देगा उस आई डी को पाने के लिये उनके प्रतिनिधी का बार बार फोन आयेगा जैसे ही आप वो आई डी बतायेंगे उसके बाद फोन आना बन्द हो जायेगा ।

2400 रूपये मे आपको जो सर्विस दी जाती है उसे वो रेज्युम प्रसार सर्विस कहा जाता है इसमे कहा जाता है कि आपका सीवी इन जोब प्लेसमेंट एजेंसीज मे भेज दिया गया है जिस्मे 100-150 फ़र्जी प्लेस्मेंट एजेंसीज के नाम होते है , । अब आपको कुछ करने की आवश्यकता नही है इंतजार कीजिये दो हफ्ते बाद आपके पास जोब कंसल्टेंट के फोन और काल आने शुरू हो जायेंगे , लेकिन नतीजा शुन्य किसी का भी फोन नही आयेगा ......... ये ही सच्चाई है कुछ दिन बाद आपसे प्रतिनिधी दुबारा सम्पर्क करेगा और आपसे प्रीमियम सर्विस लेने के लिये आग्रह करेगा और कहेगा कि आपका रेज्युम प्रोफेशनल नही है ,आप हमारे प्रोफेशनल के द्वारा अपना रेज्युम बनवा लीजिये जिसके लिये आपको .....रूपये चुकाने है । अब आप ये सोचेंगे कि अगर ये रूपये दे दिये तो शायद काम बन जाये और अगर ना दिये तो पहले के 2400 रूपये भी पानी मे चले जायेंगे । सो आप उनकी इन जालसाजियो मे आकर रूपये चुकाते चले जाते है और नतीजा जीरो .....
मै खुद इस वाकिये क शिकार हू , जब मैने उनके प्रतिनिधी से पूछा कि जो 2400 रूपये दिये है उसी समय आप एक मुश्त क्यो नही ले लेते बार बार किश्तो मे क्यो मांग करते है । जो जोब प्लेसमेंट एजेंसीज कि लिस्ट भेजी जाती है उसमे उनकी मेल आईडी या फोन नम्बर या वेब अड्रेस नही दिया रहता है । मै कैसे मान लू कि मेरा सीवी इन कम्पनीयो को भेजा गया है क्यो कि मेरे पास 1 महीने तक् किसी का भी मेसेज नही आया है कि उनके पास मेरे लायक जोब है या नही है । हा मेरे मैल बोक्स मे स्पैम मैल कि संख्या जरूर बढ गयी है ।
मेरा इस पोस्ट को लिखने का इरादा किसी ग्रुप विशेष कि बुराई करना नही है बल्कि बेरोजगार लोगो का समय और धन बर्बाद ना हो केवल इतना ही है , अगर आपका भी कभी इस प्रकार कि किसी एजेंसी से पाला पडा हो तो अपने विचार और अनुभव यहा जरूर शेयर करे ।

3 comments:

  1. सतर्क करने वाली जानकारी....

    ReplyDelete
  2. ये ठगोरे एक मुश्त इसलिए नहीं लेते क्योंकि एक मुश्त कोई भी बेरोजगार बड़ी रकम नहीं देगा इसलिए ये फांस कर थोड़ा थोड़ा वसूलते है|
    बेरोजगारों को लुटने की शर्मनाक हरकत है ये !!

    ReplyDelete

आपके द्वारा की गयी टिप्पणी लेखन को गति एवं मार्गदर्शन देती है |